झज्जर: वीर, शहीदी दिवस पर कृषि मंत्री ओपी धनखड़ ने शहीदों को दी श्रंद्धाजलि 0 86

हरियाणा के झज्जर शहर में शहीदों के सम्मान में कृष्ण धर्मशाला में यादव समाज द्वारा सम्मान समारोह आयोजन किया गया। जिसमें शहीद परिवार और जिले के गणमान्य व्यक्ति मौजूद रहे, कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में हरियाणा सरकार में कृषि मंत्री ओम प्रकाश धनखड़ ने शिरकत की।

समारोह में पहुंचने पर कृषि मंत्री ओम प्रकाश धनखड़ का भव्य स्वागत किया गया और उन्हें हरियाणा के सम्मान का प्रतीक पगड़ी पहनाकर उन्हें सम्मान दिया गया कार्यक्रम में कृषि मंत्री ने जिले के खिलाड़ियों को और शहीद परिवारों को भी सम्मानित किया।

कार्यक्रम में कृषि मंत्री ने जिले के खिलाड़ियों को और शहीद परिवारों को भी सम्मानित किया कृषि मंत्री ने अपने भाषण के माध्यम से आम जनता को बताया कि सरकार ने 234 शहीद परिवारों को नौकरी देने का काम किया है पिछली सरकारों ने शहीद परिवारों को 20 लाख रुपए की राशि देती थी लेकिन भाजपा सरकार ने इस राशि को बढ़ाकर 60 लाख कर दी है। जितना सम्मान इस सरकार में शहीदों को मिला है उतना आज तक किसी भी सरकार ने नहीं किया है।

धनखड़ ने केजरीवाल के बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि उन्हें बस राजनीति करने आता है, जो शहीदों के उपर राजनीति करे, वह व्यक्ति छोटी मानसिकता का होता है। झज्जर जिला उपायुक्त सोनल गोयल ने भी सैनिक भवन में पहुंच कर शहीद स्मारक पर श्रंद्धाजलि अर्पित की और सलामी भी दी,वही शहीद परिवारों की वीरांगनाओ को भी सम्मानित किया गया।

वही ओलंपिक खिलाड़ी विजेता बजरंग पुनिया द्वारा हरियाणा सरकार पर लगाए गंभीर आरोप के उपर मीडिया ने सवाल पूछा इसका जबाव देते कृषि मंत्री ने कहा कि खिलाड़ियों को ऐसी भाषा का प्रयोग नहीं करना चाहिए। हरियाणा सरकार सभी खिलाड़ियों का सम्मान करती है और मेरी नॉलेज में बजरंग पुनिया का ऐसा कोई बयान नहीं है, और इसे कहते हुए कृषि मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ पीछा छुड़ाते नजर आए।

Previous ArticleNext Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

पंचकूला को CM मनोहर खट्टर की सौगात, करोड़ों रुपये की योजनाओं का दिया तोहफा 0 94

सीएम मनोहर लाल खट्टर ने मंगलवार को पंचकूला की जनता को करोड़ों रुपये की योजनाओं की सौगात दी। सीएम खट्टर ने पंचकूला के सेक्टर 3 में स्थित ताउ देवी लाल स्टेडियम में आयोजित कार्यक्रम में शिरकत की। सीएम ने स्टेडियम से 85 करोड़ 10 लाख रुपये की परियोजनाओं की आधारशिला और उद्घाटन कर जिला वासियों को बड़ी सौगात दी।

सीएम नो 14 गांव को एम.सी. क्षेत्र में शामिल कर सीवरेज व्यवस्था का नींव पत्थर रखा। वहीं पंचकूला के 9 गांवों में ट्रीटमेंट प्लांट लगेगें जबकि कोट, टिपरा, बिटना, जलौली में इंटरमिडिएट पंपिंग स्टेशन लगाए जाएंगे। इन सभी परियोजनाओं को दिसंबर 2019 तक पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है।
इस मौके पर सीएम खट्टर ने हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण द्वारा एमडीसी, सेक्टर 6 पंचकूला में लगभग 539.54 लाख रुपये की राशि से आधुनिक सुविधाओं से बने सामुदायिक केन्द्र का भी उद्घाटन किया। सीएम द्वारा सेक्टर- 17 बनने वाले सामुदायिक केन्द्र की भी आधारशिला रखी गई, जिसमें बनाने में करीब 348.50 लाख रुपये की लागत आएगी।

इसके साथ ही सीएम ने सेक्टर 3 में नवनिर्मित खेल विभाग के निदेशालय भवन का भी लोकार्पण किया। जो 12.90 करोड़ रुपये से तैयार किया गया है। वहीं सेक्टर- 2 में 5.18 करोड़ रुपये की राशि से बनने वाले अनुसूचित जाति एवं पिछड़े वर्ग कल्याण भवन की आधारशिला भी रखी।

दिल्ली: वैट घटाने की मांग को लेकर 400 पेट्रोल पंप बंद, केजरी ने केंद्र को बताया जिम्मेदार 0 77

दिल्ली में सोमवार को पेट्रोल पंपों की हड़ताल से हाहाकार मचा हुआ है। पेट्रोल पंप बंद होने की वजह से वीकेंड के बाद आज ऑफिस जानों के लिए दिक्कतों का सामना करना पड़ा। मजबूरी में लोगों को दिल्ली बॉर्डर से सटे नोएडा, फरीदाबाद और गुरुग्राम का रुख करना पड़ रहा।

केंद्र के इशारे पर बंदी

इस बीच दिल्ली से सीएम अरविंद केजरीवाल ने पेट्रोल पंप मालिकों की हड़ताल को केंद्र प्रयोजित करार दिया है। केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा कि मेट्रो सिटीज में दिल्ली में पेट्रोल के दाम सबसे कम हैं। उन्होंने वैट हटाने की मांग खारिज करते हुए केंद्र सरकार से टैक्स कम करने की मांग की।

केजरीवाल ने ट्वीट किया, ‘पिछले चार सालों में पेट्रोल पर अनाप-शनाप टैक्स मोदी जी ने लगाया है, हमने नहीं लगाया। मोदी जी टैक्स कम करें और जनता को राहत दें। हम मांग करते हैं की पेट्रोल डीजल को GST के दायरे में लाया जाए। केंद्र सरकार पेट्रोल डीजल को GST में क्यों नहीं ला रही?’ उन्होंने मेट्रो सिटीज में दिल्ली में पेट्रोल के दाम सबसे कम बताते हुए लिखा, ‘चारों मेट्रो सिटीज में दिल्ली में पेट्रोल के दाम सबसे कम हैं। मुंबई में पेट्रोल के दाम सबसे ज्यादा हैं, लेकिन वहां के पेट्रोल पंप मालिक हड़ताल नहीं कर रहे। ऐसा इसलिए है, क्योंकि महाराष्ट्र में बीजेपी की सरकार है और उसके इशारे पर ही बीजेपी दिल्ली में हड़ताल करवा रही है।

बता दें कि इस महीने की शुरुआत में केंद्र सरकार ने पेट्रोल-डीजल के दामों पर डेढ़ रुपये एक्साइज ड्यूटी घटाई थी, जिसके बाद ऑइल कंपनियों ने भी दामों में 1 रुपये प्रति लीटर की कटौती की थी। केंद्र सरकार की अपील पर बीजेपी शासित राज्य सरकारों ने भी पेट्रोल-डीजल पर वैट ढाई रुपये तक घटा दिया।

इससे बीजेपी शासित राज्यों में तो पेट्रोल-डीजल के दाम 5 रुपये प्रति लीटर तक कम हो गए, लेकिन दिल्ली समेत जिन राज्यों ने वैट नहीं घटाया, वहां पेट्रोल के दाम ढाई रुपये ही कम हुए। जिसे लेकर दिल्ली पेट्रोल डीलर्स एसोसिएशन पिछले कई दिनों से पेट्रोल डीजल के दामों को लेकर विरोध प्रदर्शन कर रही थी। वहीं अब दिल्ली में भी वैट घटाने की मांग को लेकर एसोसिएशन ने बंद का आह्वान किया है। जिसके तहत मंगलवार सुबह 5 बजे तक दिल्ली में सभी पेट्रोल पंप बंद रहेंगे।