चरखी-दादरी: जलभराव होने से किसानों के 3500 एकड़ फसलें पानी में ड़ूबे 0 183

चरखी-दादरी में पिछले कुछ दिनों के दौरान हुई बारिश से करीब साढ़े 3 हजार एकड़ जलभराव होने से खरीफ की फसल बर्बाद हो गई है। पानी निकासी के उचित प्रबंध नहीं होने से कई गांवों के स्कूलों और बुस्टिंग स्टेशनों में भी पानी भर गया है।

प्रदेश सरकार द्वारा जलभराव क्षेत्रों में मछली उत्पादन की घोषणा की थी, वह भी सिरे नहीं चढ़ पाई। हालात ऐसे हो गए हैं कि पानी निकासी के इंतजाम नहीं हुआ तो रबी फसल की बिजाई पर भी संकट आ जाएगी। कृषि विभाग के रिकार्ड के अनुसार चरखी दादरी क्षेत्र में लगातार हो रही बारिश के कारण करीब साढ़े 3 हजार एकड़ फसल जलमग्न हो गई है।

लगातार पानी जमा होने के कारण धान, ज्वार, बाजरा, कपास व ईंख की फसल बर्बाद हो चुकी है। गांव मिसरी, जयश्री और कमोद में हालात बद से बदतर हो गए हैं। इन गांवों के स्कूलों और बुस्टिंग स्टेशनों में पानी भर गया है। जिसके कारण गांवों में पेयजल सप्लाई बाधित हो गई है वहीं स्कूल जाने के लिए परिजनों को गोद में लेकर बच्चों को स्कूल तक पहुंचाया जा रहा है।

पूर्व मंत्री और कांग्रेसी नेता सतपाल सांगवान ने रविवार को गांव मिसरी, जयश्री, कमोद और मिर्च के खेतों में जलभराव का जायजा लिया। इस दौरान किसानों ने बताया कि खेतों में फसल बर्बाद हो चुकी है। पानी निकासी के कोई प्रबंध नहीं किए गए हैं। जिसके कारण गांव में बीमारियां फैलने की संभावना बना गई है। पूर्व मंत्री सतपाल सांगवान ने कई गांवों में जलभराव क्षेत्रों का निरीक्षण कर सरकार से स्पेशल गिरदावरी करवाकर मुआवजा देने की मांग की है।

ग्रामीण कमल, शीशपाल, सतबीर, हवा सिंह, जयभगवान और राजेंद्र ने बताया कि खेतों में जलभराव इस कदर तक है कि यहां रबी फसल की बिजाई नहीं हो पाएगी। पूर्व मंत्री सतपाल सांगवान ने कहा कि यहां किसान की फसल बर्बाद हो चुकी है, वहीं सरकार व प्रशासनिक अधिकारी मछली उत्पादन की बात कर रहे हैं। ऐसा ही रहा तो किसानों के सामने भूखे मरने की नौबत आ जाएगी। सरकार समय रहते पानी निकासी के पुख्ता प्रबंध करें वरना कांग्रेस पार्टी बड़ा आंदोलन खड़ा करेगी।

Previous ArticleNext Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

धनतेरस के अवसर पर बाजार में दिखी रौनक, बर्तन की दुकान पर लोगों की लगी भीड़ 0 81

चरखी दादरी: धनतेरस पर्व को लेकर सोमवार को दादरी के बाजारों में बाजार में उमड़ी भीड़। हर दुकान में ग्राहकों की जबरदस्त भीड़ देखी गई। आज पूरे जिले में 5 करोड़ से अधिक का कारोबार होने की संभावना है।

सुबह से ही बर्तन, जेवरात, शोरूम आदि में ग्राहकों की भीड़ लगी रही। बाइक के शोरूम में ज्यादातर युवाओं की भीड़ थी। इसके अलावा ज्वेलरी दुकान में महिलाओं की भीड़ देखी गई। धनतेरस पर्व को लेकर बर्तन दुकानों सहित अन्य दुकानों में ग्राहकों की भीड़ जबरदस्त रही।

दीवाली के त्योहार के पहले दिन धनतेरस पर पुलिस प्रशासन ने शहर और उसके आसपास के इलाकों में सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए हैं। प्रशासन द्वारा दादरी शहर के सभी क्षेत्रों में सुरक्षा के मद्देनजर पुख्त इंतजाम किए गए हैं।

धनतरस को लेकर लगभग पूरी रात सोना चादी की दुकान के साथ पूजा सामग्री की दुकानें भी खुली रहती हैं। इसे ध्यान में रखते हुए जहां बड़े सोने-चांदी की दुकान में अंदर और बाहर सीसीटीवी से निगरानी की जायेगी। एसपी हिमांशु गर्ग ने बताया कि दिवाली के त्योहार को देखते हुए सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। पुलिस वैन के साथ सादे वर्दी में पुलिस को लगाया गया है।

स्वास्थ्य विभाग की टीम और पुलिस ने मिलकर लिंग जांच करने वाले गिरोह को किया गिरफ्तार 0 101

फतेहाबाद: स्वास्थ विभाग की टीम ने रतिया इलाके में भ्रूण लिंग जांच गिरोह का पर्दाफाश किया है। पुलिस ने इस गिरोह में शामिल 3 महिलाओं सहित 10 लोगों को काबू किया है। गिरोह में रतिया की एक एएनएम भी शामिल है। दरअसल स्वास्थ्य विभाग को लंबे समय से सूचना मिल रही थी कि लिंग जांच करने वाला एक गिरोह इलाके में सक्रिय है।

स्वास्थ्य विभाग ने टीम का गठन कर दबिश दी तो गिरोह का खुलासा हुआ। लिंग जांच करने वाला गिरोह गाड़ी में पोर्टबल मशीन द्वारा लिंग जांच करता था। जानकारी के अनुसार स्वास्थ्य विभाग को जब गिरोह के इलाके में होने की पुख्ता जानकारी मिली तो उन्होंने एक डिकोय को भेजा।

डील फाइनल होने के बाद गिरोह के सदस्य उसे पंजाब ले गए और वहां कार्रवाई शुरु की तो उन्हें विभाग की टीम के आसपास होने का अहसास हुआ। जिसके बाद सभी भागने लगे मगर स्वास्थ्य विभाग और पुलिस की टीम ने उन्हें रतिया के ब्राह्मणवाला के पास से काबू कर लिया।

पुलिस ने उनके कब्जे से एक होंडा कार जिसमें लिंग जांच की जाती थी, पोर्टबल मशीन तथा एक अन्य कार भी बरामद की है। फिलहाल पुलिस ने सभी आरोपियों के विरूद्ध मामला दर्ज कर लिया है। पकड़े गए आरोपी पंजाब एवं फतेहाबाद इलाके से संबंध रखते हैं।